Overblog Follow this blog
Edit post Administration Create my blog
27 Aug

दलितों को........ दलित कहने पर

Published by Sharhade Intazar Ved

दलितों को........ दलित कहने पर

इस दर्द से गुजरते गुजरते देख कहा तक आ गए,
इतना बदलकर भी देखा तो जख्म हरा ही पा गए

वो कहते मिले के हमने तुम्हे इंसान माना,
जो थे आज इंसानियत बेच कर खा गए,

खुदा ही जाने तुझे वो अगला जन्म क्या देगा,
इंसान यक़ीनन नहीं बनाएगा काफी है जीव का जन्म गर पा गए

Comment on this post

manju 08/31/2015 12:37

desh ke kuchh gire huye logo ka asli chehra deekhaati sunder rachna

ved 08/31/2015 19:30

sukrya manju ji

ajay kumar 08/28/2015 13:44

सुन्दर भाव

ved 08/31/2015 19:30

shukriya Ajay Bhai